• Post author:
बहन अनीता (बाईं तरफ)

“मेरी बहन दुष्ट आत्मा ग्रस्त थी, लेकिन वह अब सामान्य है!

मेरी बहन, अनीता, पिछले कई सालों से दुष्ट आत्मा से ग्रसित थी। वह परिवार के सदस्यों को शाप देती थी और चिल्लाती थी और नखरे करती थी।

मैंने हिंदू धर्मगुरुओं को दुष्ट आत्मा भगाने के लिए बुलाया और जो कुछ उन्होंने कहा, मैंने सब कुछ किया। उन्होंने कहा कि वह ठीक हो जाऐगी, लेकिन वह ठीक नहीं हुई। वह परिवार के सदस्यों से अकथनीय बातें नहीं कहेगी। वो आत्महत्या करने की कोशिश करती थी और हमें उसे बांधना पड़ता था।

जनवरी 2018 में, मेरे चाचा ने हमें यीशु मसीह और यूट्यूब पर जीसीएन टीवी हिंदी चैनल के बारे में बताया। मुझे पास्टर जॉन का नंबर मिला और जब भी मेरी बहन को दुष्ट आत्मा सताती थी, तो मैं रूमाल की प्रार्थना (प्रेरितों के काम 19ः11-12) ग्रहण करने के लिए उनको फोन करता था, जिसने वो शांत हो जाती थी।

उसके बाद से, मेरे परिवार ने जीसीएन टीवी हिंदी चैनल पर क्रूस का संदेष और दस आज्ञाऐं संदेष सुना। हमने मूर्तिपूजा और अपने अन्य पापों के लिए पश्चाताप किया। जनवरी 2019 में, यूट्यूब के माध्यम हम अपने पड़ोसियों के साथ, मानमिन सेंट्रल चर्च की शुक्रवार की रात्रि सभा के लाइव प्रसारण में शामिल हुए।

मेरे कुछ पड़ोसियों को वहां चंगे होते देख कर मुझे भी यकीन हो गया, कि मेरी बहन भी चंगी हो सकती है। हमने संदेशों को सुना और प्रार्थना की ताकि वह भी फरवरी में विशेष ईष्वरीय चंगाई सभा में चंगाई प्राप्त कर सके।

22 फरवरी को, जब चंगाई सभा में रूमाल के साथ पास्टर सुजिन ली की प्रार्थना ग्रहण की, तो मेरी बहन ने आँसूओं के साथ पश्चाताप किया और पवित्र आत्मा की अग्नि प्राप्त की। दुष्ट आत्मा ने उसे छोड़ कर चली गई और वह अब पूरी तरह से सामान्य है। हाल्लेलुयाह!

Leave a Reply