• Post author:
नीतू चंदर (उम्र 26 वर्ष, दिल्ली मानमिन चर्च)

मुझे दुष्ट आत्मा छोडकर चली गई।

छह साल पहले, मुझे लगातार बुरे सपने आने लगे। मेरा पूरा शरीर दर्द करने लगा। शादी के बाद तो और भी बदतर हो गया। मैं कहीं भी चिल्लाने लगती थी और दौरे पडते थे।

मैं काम नहीं कर पाती थी और मैं करना भी नहीं चाहती थी इसलिए, मेरे पति को घर के सारे काम करने पड़ते थे। मैं हमेशा गुस्से में रहती थी। मैं अपने पति और बच्चों के साथ लड़ने के लिए चिल्लाती थी। कभी-कभी मेरे पति को मेरे कारण पूरी रात जगे रहना पड़ता था और काम पर भी नहीं जा पाते थे।

जनवरी 2018 में, हम अपने पति के काम के कारण दिल्ली चले आए। यह मेरे गांव की तुलना में बहुत अधिक आबादी वाला क्षेत्र है, और मेरे लक्षण और भी बदतर हो गए। मैं दिन में कई बार गिरती थी। मेरा सिरदर्द असहनीय था। मुझे ऐसा लगता था कि, जैसे कोई भारी चीज मेरे सिर को दबा रही है।

उस साल मई में, मेरी भाभी ने मुझे दिल्ली मानमिन चर्च के बारे में बताया और कहा कि प्रभु मुझे ठीक कर सकते हैं। मैंने उनके साथ प्रार्थना सभा में भाग लिया। वो दानिय्येल प्रार्थना सभा के सीधे प्रसारण में शामिल थे, जो सियोल के मानमिन सेंट्रल चर्च में चल रही थी।

मैं अपने जीवन में पहली बार एक चर्च में गयी थी, लेकिन मैंने सभी प्रार्थनाओं और स्तुतियां को उनके साथ गाया और इसके अंत में वीडियो पर रेव. डा. जेराक ली की प्रार्थना ग्रहण की।

जब मैं प्रार्थना ग्रहण कर रही थी, मैं गिर गयी। पास्टर जॉन किम द्वारा रूमाल के द्वारा मेरे लिए प्रार्थना करने के बाद मैं उठी। उस रात, मैं बहुत अच्छी तरह से सोयी, और अगले रविवार से, मैं नियमित रूप से चर्च जाने लगी।

मैंने न केवल रविवार की सभाओं में भाग लिया, बल्कि शुक्रवार की रात्रि सभा और हर षाम दानिय्येल प्रार्थना सभाओं में भी भाग लिया। मैंने हर दिन रेव. डा. जेराक ली के क्रूस के संदेश को सुना। पहले तो मुझे नींद आती थी और मैं ध्यान से सुन भी नहीं पाती थी, लेकिन एक हफ्ते के बाद मैं बेहतर हो गई।

इसके अलावा, जैसा कि मैंने हर आराधना सभा में सीनियर पास्टर की बीमारों के लिए प्रार्थना और पास्टर जॉन किम (प्रेरितों के काम 19ः11-12) से रूमाल की प्रार्थना ग्रहण की, मेरे गिरने के दौरे की समस्या काफी बेहतर हो गई।

मुझे कुछ विश्वास प्राप्त हुआ, और मैंने अपने आप को प्रार्थना और उपवास के साथ तैयार किया ताकि समर रिट्रीट में पूरी तरह से चंगाई प्राप्त कर सकूं। मैंने जीसीएन टीवी के माध्यम से, भारत में, अगस्त में 2018 के मानमिन समर रिट्रीट के पहले दिन में भाग लिया। जब स्पीकर पास्टर सुजिन ली रूमाल के साथ प्रार्थना कर रही थी, तो मुझे लगा कि मैं गिर रही हूं, लेकिन मैंने प्रार्थना ग्रहण करने पर ध्यान केंद्रित किया। जल्द ही, मुझे मेरे अंदर की दुष्ट आत्मा मुझे छोडकर चली गई, और सिर में भारी सनसनी भी दूर हो गई।

समर रिट्रीट के बाद, मुझे कभी कोई दौरा या बुरे सपने नहीं आऐं। सिरदर्द और पूरे शरीर का दर्द भी दूर हो गया। अब मैं घर का काम करती हूं और अपने बच्चों के साथ खेलती हूं। प्रभु के अनुग्रह के लिए धन्यवाद, अब मेरा पूरा परिवार बहुत खुश है। हाल्लेलुयाह!

Leave a Reply